यौन और आत्मविश्वास: सांप और सीढ़ी संस्करण

हो सकता है कि कुछ लोग स्थायी रूप से ही इस मामले में आत्मविश्वासी हैं- परन्तु हममें से ज़्यादातर के लिए, यौन आश्वस्तता या आत्मविश्वास सांप – सीढ़ी के खेल की तरह है: हम पासा फेंकते हैं और दस कदम आगे बढ़ते हैं, हम कितने खुश होते हैं कि हम आगे बढ़ रहे हैं, लेकिन फिर हमारा पाला एक साँप से पड़ता है, हम फ़िसलते चले जाते हैं और आखिर में अपने को वहीं पाते हैं जहां से हमने शुरू किया था।

हमने कुछ लोगों से बात की- यहां प्रस्तुत हैं, उन बातों के कुछ अंश, जिनसे ये पता चलता है कि सांप सीढ़ी के इस जटिल खेल में उनका यह विश्वास किन बातों से बढ़ता है और किन बातों से घटता है। चीजों को सरल रखने के लिए, हमने उन्हें भावनात्मक, सामाजिक, और बैंग-इन-द-पल/ मौके पे चौका – पलों में विभाजित किया है।

सांप या वे चीज़े जिससे आपका विश्वास कम,  कम, कम होता जाता है।

सामाजिक साँप

डींगे हाकने वाले लोग

29 वर्षीय दिल्ली के मीडिया प्रोफेशनल, राजन, का कहना है कि जब वह 14 वर्ष के थे, तो उन्होंने उनकी कक्षा के कुछ बड़े दिग्गज माने जाने वाले लड़कों की डींगे सुनी थीं: की कैसे उन्होंने अपने 20 सेंटीमीटर लंबे लिंग के साथ सेक्स किया और आधे घंटे में 6 बार किया।” मैंने अभी तक यौन संबंध नहीं बनाये थे, लेकिन मेरे पास एक प्रेमिका थी, और मैंने सोचा कि अगर मैं उसे प्रभावित करना चाहता हूँ तो मुझे भी ऐसा ही करना होगा। यह मुझे परेशान करता था, क्योंकि मुझे पता था कि मैं ऐसा नहीं कर पाऊँगा। मुझे बहुत बाद में पता चला कि वे झूठ बोल रहे थे। “कई पुरुष बताते हैं कि पोर्न/अश्लील सिनेमा और दोस्तों कीगप्प से मन में सेक्स को लेकर अजीब अपेक्षाऐं पैदा हो जाती हैं। और जब यह (सेक्स) उन अपेक्षाओं से मेल नहीं खाता है, तो इस बात से खुद पर बुरा असर पड़ सकता है।


गुणवत्ता नियंत्रण/क्वालिटी कंट्रोल

कुछ लोग सोचते हैं कि सेक्स पूरी तरह से रेटिंग, प्रवीणता और आसनों के ही बारे में है, और सच्ची अंतरंगता, आदान-प्रदान करने और अच्छा महसूस करने के बारे में कम है। ये लोग किसी नई सनसनीखेज़ स्थिति या आसन की कोशिश में ही लगे रहते हैं, और अपने प्रत्येक पूर्व प्रेमियों की रेटिंग करने में डूबे रहते हैं, या संख्यात्मक पदानुक्रम पर अपने प्रत्येक पूर्व प्रेमियों को स्थान देते हैं (“ओह, वह बहुत अच्छा था,उसे तो पुरे 10”)। दुर्भाग्य से, यह हमें एक ऐसी संस्कृति की ओर ले जाता है जो आपको आनंद लेने के बजाय चेकलिस्ट पर टिक मारने की चिंता में रख छोड़ता है।

लोकप्रियता का पुरस्कार

28 वर्षीय पटकथा लेखक डैनी कहते हैं कि उन्हें लगता है वे लोग जिन्हें लोग पसंद करते हैं और जिन्हें अक्सर लोग आगे बढ़कर चुनते हैं, (यौन के लिए) उनका यौन आत्मविश्वास अच्छा होता होगा जिसके कारण उनके आसपास के लोगों का आत्मविश्वास कम हो जाता होगा। “मुझे एक के बाद एक, दो लड़कियों में दिलचस्पी थी, परंतु दोनों ने मेरे बजाय मेरे दोस्त कोे पसंद किया। दूसरी बार के बाद मुझे लगा कि मैं कभी भी अपने जीवन में अपना आत्मविश्वास वापस नहीं पा सकूंगा।”

अलग तरह की इच्छाएँ

कुछ लोगों के लिए, सामाजिक मानदंडों से अलग मिज़ाज वाली यौन कल्पनाएँ होना उनका यौन आत्मविश्वास कम कर सकती हैं। कुछ पुरुष, उदाहरण के लिए, बिस्तर में विनम्र भूमिका निभाने के इच्छुक होते हैं (या शारीरिक रूप सेे अपने प्रेमी/सहयोगियों का वर्चस्व चाहते हैं ), जबकि समाज आम तौर पर कहता है कि आदमी होने के नाते उन्हें अधिक प्रभावी होना चाहिए। यदि आपको लगता है कि समाज आपकी यौन प्राथमिकताएं या कल्पनाओं को तुच्छ समझता है, तो इससे भी आपका आत्मविश्वास कम हो सकता है।

 

भावनात्मक सर्प

मुहरबंद होंठ

बहुत से लोग उन भागीदारों/ साथियों के साथ यौन आत्मविश्वास की कमी महसूस करते हैं जो बिस्तर में वास्तव में क्या चाहते हैं, इसके बारे में चर्चा करने के लिए तैयार नहीं हैं। वे कहते हैं कि यह निराशाजनक स्तिथी होती है क्योंकि यदि वे वो कर पाते जो उन्हें पता होता कि उनकेे भागीदारों को पसंद है, तो वो अपने आप में अधिक आत्मविश्वास महसूस करते ।

झूठी आशा

यदि आपको यह पता है कि आपका साथी अपनेे आनंद के बारे में आपके साथ पूरी तरह से ईमानदार नहीं है, या वो कामोन्माद रति-निष्पत्ति का दिखावा कर रहा है तो यह जानना संभोग केे बारे में बिल्कुल भी बात नहीं करने के मुकाबले, यौन आत्म विश्वास के लिए और भी बदतर हो सकता है। 30 साल के एक वकील दीनाकरन कहते हैं, ” मैं दो साल तक एक लड़की के साथ था, और हमारी पिछली लड़ाई में उसने कहा कि मेरे साथ कभी भी उसे कामोन्माद नहीं हुआहै।” यदि वह मुझे इतने समय तक मूर्ख बना सकती है तो मुझे कैसे पता चलेगा कि कोई सच कह रहा है या नहीं [वह भी यौन के आनंद के बारे में]? इससे कई तरह से मेरा आत्मविश्वास बिगड़ गया।”  संभोग के बारे में झूठ यह भी सुनिश्चित करने का एक तरीका है कि आपका साथी कभी नहीं जान पायेगा कि आपको संभोग में कौन सी प्रक्रिया सुख देती है। आपके लिए क्या काम करता है।

सामान्य आत्म-विश्वास

वृत्तचित्र “सेक्सप्रर्ट से पूछें” में,  एक ऐसा दृश्य है जहाँ एक मरीज 91 वर्षीय बॉम्बे स्थित सेक्सोलॉजिस्ट डॉ. महेंद्र वात्सा को अपने लक्षणों का वर्णन कर रहा है। यद्यपि उसे अपने स्तंभन दोष/इरेक्टाइल डिसफंक्शन/डायफंक्शन जैविक समस्या के बारे में बताना है, वह यह भी समझाने लगता है कि किस प्रकार वित्तीय समस्याओं का भी उसे सामना करना पड़ रहा है, जो उसके आत्मसम्मान को प्रभावित कर रही हैं। डॉ. वात्सा बताते हैं कि मरीज़ ने पहले से ही पहचान लिया है कि उसके सामान्य तौर के आत्म-विश्वास और यौन प्रदर्शन के बीच संबंध है। कई पुरुष रिपोर्ट करते हैं कि जब वे जीवन में स्वयं के बारे में अच्छा महसूस नहीं करते हैं, तो उन्हें कम लैंगिक आत्मविश्वास महसूस होता है।

दया करें, मुड़ -मुड़ के ना देखे

बहुत से लोगों ने उल्लेख किया है कि उनके पार्टनरद्वारा उनके  पिछले प्रेमियों से तुलना उन्हें बहुत निराशाजनक और कमतर महसूस कराती है। एक इस बात पर सामान्य सहमति है कि किसी को भी अपने साथी को किसी और के साथ चित्रित करने में आनंद नहीं मिलता है, विशेषकर जब सेक्स की बात होती है।

गैस लाइटिंग/उल्टा चोर कोतवाल को डांटे: बेंगलुरु कीे एक 27 वर्षीय कलाकार प्रियंका, याद करती हैं कि उनके पूर्व प्रेमी को लिंग को खड़ा रखने में कठिनाई होती थी। प्रेमी ने उनसे कहा कि इसका कारण यह था कि वो इतनी आकर्षक नहीं थीं, और इस बात ने उसे गंभीर रूप से प्रभावित किया गया था। बाद में उन दोनों से परिचित एक सहेली से उसे पता चला कि एक दूसरी औरत, जिसे वे दोनों जानते थे, के साथ भी उसको यही समस्या रही थी, और वो केवल उस पर दोष को स्थानांतरित कर रहा था। लोगों का अपनी समस्याओं से बचने और उन्हें दूसरों की ज़िम्मेदारी बनाने की कोशिश करना असामान्य नहीं है, और यह गंभीर रूप से किसी को विशेष रूप से हानिकारक और कमतर महसूस करवा सकता है।

मौके पे चौका मारने वाला सर्प

स्टारफ़िश स्थिति/बेसुध पड़े रहना

कलकत्ता स्थित एक वकील सुनीश कहते हैं, “एक लड़की का आपके साथ स्टारफ़ीश की तरह हो जाना सबसे बुरी चीज है।” “स्टारफिश हो जाना”का मतलब है, उस व्यक्ति का,  जिसके साथ आप हैं, वह बिल्कुल स्थिर और निष्क्रिय/ बेसुध हो जाय, जैसे एक स्थिर सितारा मछली या “मृत मछली”। वे आगे कहते हैं की इससे वो एकदम सकपका जाते हैं, समझ नहीं पाते कि आगे क्या करना चाहिए ( ऐसे में शायद,वहाँ शायद सबसे अच्छी बात है, कुछ भी करना बंद हो और अपने साथी से पूछें कि वे कैसे आगे बढ़ना चाहते हैं।)

दुषचक्र

34 वर्षीय पुरब कहते हैं, “मेरे लिंग का निर्माण/खड़ा होना सीधे मेरे आत्मविश्वास से जुड़ा हुआ है। अगर मुझे लगता है कि कुछ ठीक नहीं हो रहा है, तो यह उस पल में ही मेरे आत्मविश्वास को प्रभावित कर देता है, और फिर मैं अपना निर्माण खो देता हूं। फिर अपने निर्माण को खो देना अपने आप में शर्मनाक होता है, जिससे मेरा आत्मविश्वास और खो जाता है।”अब उन्होंने ऐसा होने पर, पीछे हटना और मज़ाक करना या कुछ देर का विराम लेना सीख लिया है।

वे आगे बढ़ाने वाली सीढ़ियाँ वो बातें या चीजें हैं जो आपके आत्मविश्वास को सही तरीके से बढ़ा देती हैं।

सामाजिक सीढ़ीयाँ

शारीरिक छवि

नीना, मुंबई में एक सार्वजनिक नीति की छात्रा है, पॉप (pop) संस्कृति द्वारा परिभाषित “पारंपरिक रूप से आकर्षक” नाक नक्शों से अपने यौन आचरण को आश्वस्त करती है। “मैं हमेशा पतली रही हूँ, और हमें बताया गया है कि यह सुंदर है , मुझे पता है कि यह मानना ग़लत है, लेकिन यही बात समाज मानता है, और आप भी इसे अंदर तक मानते हैं। “वह कहती है कि अगर वह सुंदरता के प्रचलित मानकों के विपरीत नज़र आती है, तो उसे उसका आत्मविश्वास घटा हुआ मिलता है, और वह इस बात से अवगत है कि किस तरह यह मानदंड किसी को हानि पहुंचा सकते हैं जो कि इन मानकों में फिट नहीं होते हैं।

बधाईयाँ/तारीफ़ें

सराहना हर किसी के आत्मविश्वास को बढ़ाती है! बेंगलुरु स्थित फैशन डिजाइनर सिधरा जो कि अपने तीसरे दशक में हैं, ने कहा कि जब लोग उनकेे होंठ या बट (कुल्लों) की तारीफ करते हैं, तो उनको बढ़ा हुआ आत्मविश्वास महसूस होता है। जबकि मनशु ने अपनी चौथी प्रेमिका को याद करते हुए कहा कि उसने कहा था कि उसके पास एक बड़ा लिंग था, ये वह प्रशंसा थी जो उसे अभी तक प्राप्त नहीं हुई थी । उसने कहा यह एक अच्छी अप्रत्यशित सुखद बात रही।

 

भावनात्मक सीढ़ियां

अभ्यास परिपूर्ण बनाता है

“जब मैंने सेक्स करना शुरू ही किया था, तब मैं अपनी क्षमताओं को लेकर बहुत आश्वस्त था। मैंने सभी पोर्न फिल्में देख ली थीं और अगर मेरा लिंग योनि के अंदर चला गया,तो मैं यूं सोचता था कि मैंने सब कुछ कर लिया है। फिर मैंने कुछ और लोगों के साथ यौन संबंध बनाना शुरू किया, और तब मैंने वास्तविक महिला शरीर संरचना के बारे में जाना, तो मुझे एहसास हुआ कि मैं इसमें ख़राब था। आप जितना अधिक सेक्स करते हैं, उतना अधिक आप जानते और समझते हैं कि अलग-अलग लोगों के लिए काम करने वाली चीजें भिन्न होती हैं। आपका खुद का यौन ज्ञान और तरीकों का खजाना बढ़ता है, और आप संकेतों को बेहतर ढंग से पढ़ना सीखते हैं। यह आपको सेक्स में बेहतर बनाता है, और बदले में, आपका यौन आत्मविश्वास भी बढ़ता है। “

मानुष, अपने चौथे दशक में एक सिविल सेवक है, कहते हैं कि अपने साथी के साथ अनुभव आपके आत्मविश्वास को बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। “आप दोनों एक-दूसरे के शरीर से सीख रहे हैं और एक-दूसरे के शरीर से ही सीखा हुआ ( ग़लत सीखा हुआ) भूल रहे हैं, और सब में कोई दबाव भी नहीं है, तो आपके पास जानने की भरपूर संभावनाएं हैं, वह भी बिना शर्मिंदा हुए।”

अपने शरीर के साथ आराम

बार्नी, एक 28 वर्षीय वकील, कहते हैं, “मैंने एक मार्शल आर्ट की कक्षा और कुछ अन्य पाठ्यक्रम लिए थे जिससे मैं अब अपने शरीर के साथ सुसंगत महसूस करता हूँ। इससे मुझे अपनी त्वचा/ काया में निवास सहज तो लगा ही, साथ ही,इससे मुझे अन्य लोगों को स्पर्श करने में भी, यौन और गैर-यौन संबंधों में भी, सहायता मिली,: मुझे अपने स्पर्श की ताकत और इसकी ताकत के बारे में पता था, और मैं इस बात से भी कम चिंतित था कि कहीं मेरा स्पर्श जोखिम भरा तो नहीं।

स्व-ज्ञात बुद्ध

 कुछ फुस्केबाज लोगों के विपरीत, कुछ लोगों ने कहा कि अपनी खुद की पसंद और प्राथमिकताओं की खोज से वास्तव में उन्हें प्रोत्साहन मिला, बढ़ावा मिला, अगर उन चुनावों को स्वीकारा गया, उन्हें उन पर शर्म नहीं दिलाने गयी, तो । यदि उन्हें शर्मनाक और निंदनीय नहीं माना गया।

दिशा, एक छात्रा, कहती हैं कि रिश्ते में कुछ महीनों रहने के बाद उन्हें पता चला कि उन्हें “थपकियाँ” बहुत पसंद हैं, और इस जानकारी ने उसे और अधिक साहस दिया, जिससे उसे और अधिक यौन आत्मविश्वास महसूस हुआ।

मौके पे चौका मारने वाला सीढ़ियां

निस्वार्थ देनेवाला

“मेरे लिए, मेरा यौन आत्मविश्वास पूरी तरह से मेरे साथी की प्रतिक्रियाओं से जुड़ा हुआ है,” एक वेब विश्लेषक,  30 वर्षीय वी प्रीत कहते हैं, “तो मुस्कुराहटें, उसका अपने सिर को एक ओर से दूसरी और ले जाना और झटके देने की क्रिया सभी अच्छे संकेत हैं ,कराहना बेहतर है, और कामोन्माद का होना तो लाजवाब है । आपके संभोग कौशल को मापने का कोई अन्य मापदंड है ही नहीं, है क्या? अगर मुझे लगता है कि मेरा साथी आनंद ले रहा है, तो मेरा आत्मविश्वास बढ़ता है, और इसकी विपरीत पारिस्थितियों में विपरीत होता है। “

स्व-चालित कार

बहुत से लोग अपने सहयोगियों की खुशी से अपना आनंद लेते हैं, या अन्य लक्षणों से, जो उन्हें आकर्षक लगते हैं। 20 साल कीे एक छात्रा मृदुला कहतीे हैं कि वह अधिक आत्मविश्वास महसूस करती हैं, जब जिसके वह साथ हैं, उंसके चेहरे के हावभाव से यह साफ दिखाई दे की वह उस पर मोहित है (जैसे आंखें बड़ी होना), शारीरिक संकेतो (तेजी से श्वास), कराहें और आहें,। वह कहती है, “ऐसे में मुझे सत्ता में होने का अधिक एहसास होता है, लगता है मैं और भी ज़्यादा मज़ेदार हो सकती हूँ, उसके साथ खेल सकती हूँ और थोड़ा सा छेड़ भी सकती हूँ।”

यह दोनों बातें ही अपने यौन आश्वासन के लिये स्वस्थ और सकारात्मक आधार से लगते हैं: आख़ीरकार, अपने बारे में अच्छा महसूस करना, और महसूस करना कि आपके साथी कोे आपके साथ सेक्स करके अच्छा लगा ,ये सेक्स के दो सबसे महत्वपूर्ण पहलू हैं, सो यह पता करने के लिए कि आप इसे सही कर रहे हैं या नहीं, यह सबसे उपयुक्त तरीके हैं।

वैनिटी मेट्रिक्स/ग़ुरूर का मीटर

और अंत में, कई झूठे झंडे, जो आपको गलत विश्वास दे सकते हैं और जो आपके पास नहीं होने चाहिए।विप्रित, मानते हैं कि एक महिला के दृश्यमान या श्रव्य संकेत ही सच्चे मापदंड/ मेट्रिक्स हैं और असली हैं। वे बताते हैं कि कुछ लोग जिन्हें वो “ दिखावे वाले मीटर” मानते हैं, इन्हें ही अपने यौन आत्मविश्वास के लिए “ग़ुरूर वाले मीटर/वैनिटी मैट्रिक्स“ मानते हैं।उन्होंने कहा कि ये बेकार संकेत हैं, जैसे कि “प्रति मिनट झटके देने की संख्या”, जो प्रतियोगी खेल के रूप में सेक्स पर आपके कौशल पर विश्वास पैदा कर सकती है, लेकिन तभी जब आप यौन आनंद के बारे में कुछ नहीं जानते हों।

मानुष ने अपने युवास्था में एक और “घमंड मेट्रिक्स मीटर” का उपयोग किया था। “मैं एक बहुत छोटी उम्र की लड़की के साथ सेक्स कर रहा था। आज मुड़कर देखने पर लगता है, वो  सचमुच खराब सेक्स था। असुरक्षित, मैं उसके पेट और जांघों पर वीर्य स्खलित करता था। मैं एक अजीब क्रोधपूर्ण तरीके से “गर्वित” था । जैसे मैं बिना किसी सुरक्षा के अपने स्खलन को नियंत्रित कर सकता था। यह अजीब और बेवकूफी भरा था।”हो सकता इस तरह के “ग़ुरूर भरे मीटर” कुछ लोगों के आत्मविश्वास को बढ़ावा देते हों, पर सच तो ये है कि आपको और आपके साथी को आपके पारस्परिक आनंद देने वाली चीजों से ही अपनी यौन आश्वस्तता को प्राप्त करना आपके संबंध के लिए महत्वपूर्ण है।

You may also like

Comments

comments

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *