संभोग के आसन

कुछ लोगों को लगता है कि सेक्स के दौरान जितनी अधिक अवस्थाओं (positions) को आजमाया जाता है, सेक्स की प्रक्रिया उतनी ही बेहतर हो जाती है। यानी कि अच्छे सेक्स की परिभाषा है, विभिन्न अवस्थाओं वाला सेक्स।

लेकिन इन सब के दौरान क्या आपने कभी ऐसा महसूस किया है कि आपका पार्टनर आपको कोई उच्च स्तर का योगा क्लास करवा रहा है। यानी कि जब आप आराम से उस पल का आनंद उठाने की चेष्ठा रखते हैं, वो आपको उठापटक की प्रक्रिया में संलग्न करने की कोशिश करता है। या शायद आप वो हों जो चाहते हैं कि आपका साथी आपके साथ कदम से कदम मिलाकर उन अवस्थाओं का आनंद उठाये, ना कि बेजान सा लेटा रहे।

कुछ के लिए ये कलाबाजी की पराकाष्ठा हो सकती है, जो कि बहुत कठिन प्रतीत हो सकती है। लेकिन दूसरों के लिए यह रोमांच ढूँढने और पाने का पसंदीदा ज़रिया हो सकता है।  जहाँ कुछ लोग ये मानते हैं कि खुद को यूँ कई अवस्थाओं में मोड़ना असंभव है, दूसरे नई चीज़ें आजमाना चाहते हैं।

जो भी है, यौन प्रक्रियाओं पर हम सब की अपनी एक विशिष्ट प्रतिक्रिया होती है। आगे पढ़ें और देखें कि इस मामले में आपकी इच्छा क्या कहलाती है।

उत्सुक बिल्ली वाला आसन (The Curious Cat Position):


उत्सुक बिल्ली हर चीज़ को एक बार जरूर आजमाती है। उन्हें सेक्स की नई अवस्थाओं को आजमाना पसंद होता है। उनके लिए, हर नई अवस्था एक नया रोमांच है।मुझे नई अवस्थाएं आजमाना पसंद है क्योंकि कई बार हमें खुद नहीं पता चलता कि हमारे लिए क्या काम कर जाए,” पायल, एक जैव चिकित्सा शोधकर्ता बताती हैं।यह जुए जैसा है। या तो ये बहुत ही अजीब हो सकता है, या वास्तव में दिलचस्प ! आपको अंगों के एक अद्वितीय मेल का अनुभव करा सकता है या शायद बस एक नज़ारा दे जाता है ।यहाँ 50-50 चांस रहता है कि ये कार्यरत होगा लेकिन क्योंकि हम सेक्स की बात कर रहें हैं तो हमें इस कोशिश पर यकीन रखना चाहिए।

कृष्णन, एक 20 वर्षीय हैदराबाद में स्थित छात्र, को विभिन्न आसनों का स्वाद पसंद है। उन्हें लगता है कि विभिन्न आसनों की कोशिश ज़िंदगी में लुत्फ लाती है।प्रत्येक आसन आपको ऐसा महसूस कराता है जैसे कि आप किसी नए पार्टनर के साथ हों।” 26 वर्षीय दयुति कहतीं हैं कि बदलती अवस्थाएं संभोग के अलगअलग तरीकों का अनुभव करने की खुशी देती हैं। और इन नई अवस्थाओं को खोजनाउनसे नए अनुभव पाना, ये सब  उस थकान को अर्थपूर्ण बना देता है।

 

सो रहे ड्रैगन वाली स्थिति (The Sleeping Dragon Position):


सो रहे ड्रैगन उत्सुक बिल्लियों के ठीक विपरीत होते हैं। विभिन्न अवस्थाओं वाला विचार उन्हें विचलित कर देता है। वे उसे कष्टप्रद और अनावश्यक कसरत के रूप में देखते हैं। पवित्रा . एक 29 वर्षीय बंगलोर स्थित मीडिया पेशेवर, अफसोस जताते हुए कहती हैं (आघातपूर्ण भावों के साथ), कि सेक्स के शुरुआती दिनों में वो ऐसा महसूस करती थीं जैसे कि वो किसी युगल उठापटक प्रतियोगिता का हिस्सा थीं। वो याद करती  हैं कि कैसे उन्हें विभिन्न अवस्थाओं में पटक दिया जाता था, जो उन्हें पसंद भी नहीं थीं।मुझे लगता है कि क्योंकि हम युवा थे, तो हमें लगता था कि सेक्स अपने आप में ही एक दुर्लभ वस्तु है। उस पल हम वो सब आजमाना चाहते थे जो हमने देखा या सुना हो। हम काफी थक जाया करते थे।

सो रहे ड्रैगन को लगता है अवस्थाओं को बारबार बदलने से वो सेक्स का आनंद नहीं उठा पाते हैं और उन्माद की प्राप्ति के लिए उन्हें किसी एक विशेष अवस्था में ही रहने की आवश्यकता होती है।  “मैं जानती हूँ कि कौन सी अवस्था मेरे लिये काम करती है,” पवित्रा कहती हैं। उन्होंने बताया, ” कुछ और अवस्थाएं हैं जिन्हें मैं आजमाना चाहूंगी (सच में) लेकिन ज्यादा देर के लिए नहीं। मेरा मतलब है कि मैं किसी गलत घर का दरवाजा खटखटाने में अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहती हूँ।पवित्रा उल्लेख करती हैं कि उन्हें सेक्स के दौरान बेदर्दी से किसी अवस्था में धकेला जाना बिल्कुल पसंद नहीं है। वह याद करती हैं,” कुछ ऐसे पल आए हैं जब वो मेरे ऊपर इधर से उधर लोटने लगता था और मैं बोलती थी कि बस, रिलैक्स करो। मैं रोटी नहीं हूँ जिसे बेला जाए।

 

धीमी गति वाले घोंघे की स्थिति (The Slo-Mo Snail Position):


कुछ ऐसे लोगों का भी समूह है जो कि अलगअलग अवस्थाएं आजमाना तो चाहते हैं लेकिन सिर्फ किसी प्रक्रिया को धीमा या विलंबित करने के लिए। विनय, गर्व से अपने को एक धीमे चलने वाले घोंघे की उपाधि देते हैं। वो वकील हैं और दिल्ली में रहते हैं। वे बताते हैं, “कभी कभी, जब मैं बहुत उत्तेजित होता हूँ और मुझे लगता है कि मेरे पार्टनर से पहले या अपनी इच्छा से पहले ही मुझे कामोन्माद का सुख मिल जाएगा, तो मैं अवस्था बदल देता हूँ। अवस्था बदलने की प्रक्रिया स्थिति को थोड़ा नियंत्रित करती है (उन्माद में थोड़ी देरी करवाती है), और इस सबसे सेक्स की पूरी प्रक्रिया थोड़ी लंबी चलती है जो कि एक अच्छी बात है। इसके अलावा, मैं जानता हूँ कि मैं जब पीठ के बल होता हूँ तो मुझे स्खलन में कठिनाई होती है, इसलिए अगर मुझे लगता है कि मैं जल्दी ही उस ओर जाने वाला हूँ तो मैं पीठ के बल ही हो जाता हूँ। सेक्स में समय लगना निश्चित रूप से अच्छा है, इसलिए मुझे लगता है बदली अवस्थाएं, अगर सही ढंग से इस्तेमाल की जायें, तो फायदेमंद साबित हो सकती हैं।

 

जंगल के राजा वाली स्थिति (The king of the jungle position):


यह समूह दार्शनिक रूप से धीमे चलने वाले घोंघों के विपरीत है। वे लोग जो जंगल के राजा वाली आकांक्षाएँ रखते हैं, उनके लिए अवस्थाएं केवल चोटी पर पहुँचने का जरिया होती हैं। जब आपको पता है कि आपके लिए कोई विशेष अवस्था काम करती है, तो आप बाकी चीजों के बारे में क्यों सोचेंगे? 27 वर्षीय कायला, जो कि एक हवाईजहाज की कंपनी में काम करती हैं, कहतीं हैं,” मैं जानती हूँ कि मैं उन्माद का आनंद उठा सकती हूँ अगर मैं शीर्ष पर या काउगर्ल (cowgirl) वाली अवस्था में रहूँ, ना कि मिशनरी में। इसलिए, मैं उसी अवस्था से शुरुआत करती हूँ और कोशिश करती हूँ कि मैं उन्माद प्राप्त कर लूँ इससे पहले कि वो मेरे ऊपर जाये और उस अवस्था को आजमाए जो उसके लिए काम करती है और मेरे उन्माद पाने की संभावनाओं को खत्म करके अपना सुख प्राप्त कर ले। यह एक तरह से एहतियात बरतने वाली स्थिति होती है।वो उन अवस्थाओं का चूनाव करती हैं जो उनके उन्माद में उनकी मदद करें, ताकि उसके बाद वो अपने पार्टनर की खुशी पर अपना ध्यान केंद्रित कर सकें।

 

सिर से टक्कर मारने वाला सांढ़ और मुँह घुमाकर देखने वाले शेर की अवस्था (The head -hitting bull and look away lion positions):


इस समूह के आधे लोग, किसी अवस्था को पसंद या नापसंद इस हिसाब से करते हैं कि वो अपने पार्टनर की तरफ मुँह कर पा रहें हैं या नहीं।

ये सोचना लाजमी है कि बहुत से लोगों को वो अवस्था पसंद आती है जिसमें उनका पार्टनर आमने सामने हो। इससे उन्हें एक लगाव का अनुभव होता है और संवेदनाएं भी उजागर हो उठती हैं।

और अन्य लोग वो हैं जो उन अवस्थाओं को अपनाते हैं जिनमें पार्टनर का चेहरा नज़र नहीं आये पूछे जाने पर, वे बताते हैं कि वो अपने पार्टनर को अपनी प्रतिक्रियाएं नहीं दिखाना चाहते हैं।मुझे डॉगी स्टाइल (doggy style) पसंद है।नीति, एक वास्तुकला छात्र बताती हैं।सबसे पहला कारण ये कि वो मुझे सही जगह पर हिट करता है और दूसरा कारण ये कि आपका पार्टनर आपको देख नहीं पाता है। मुझे पूरा यकीन है कि सेक्स के दौरान मैं बदसूरत चेहरा बनाती हूँ। तो अगर वो मुझे देख रहा हो, तो मुझे अपने भाव नियंत्रित करने पड़ते हैं, ये दिखाना पड़ता है कि मुझे मज़ा रहा है और मैं सेक्सी भी लग रही हूँ। डॉगी स्टाइल में मैं सचमुच अपनी चरम सीमा पे पहुँच जाती हूँ।

तो चेहरा आमने सामने होने से ये दुविधा होती है कि अपना सही रूप दिखाया जाए या बनावटी शक्ल बनाई जाए।

या तो ये एक अंतरंग अनुभव दे सकता है या फिर बिल्कुल असहज। यही वजह है कि लोग इस अवस्था को लेकर बहुत दृढ़ता पूर्ण भावनायें रखते हैं।

 

पेंगुइन की जोड़ी वालो स्थिति (The pair of penguins position):


क्या आप जानते हैं कि पेंगुइन जीवन भर एक ही पार्टनर के साथ रहते हैं? तो उनके पास काफी समय होता है हर तरह की अवस्थाओं को आजमाने का। वो इसलिए कि आप रिश्ते के किस चरण में हैं, शायद उससे भी ये निर्णित हो सकता है कि आप कौन सी अवस्थाएं आजमाना चाहेंगे। जबकि कुछ लोग शुरुआत से ही बहुत सारी अवस्थाएं आजमाना चाहेंगे, बाकी लोग उन प्रयोगों, और कुछ विशेष, निजी चीजों को रिश्ते के आगे के दिनों के लिए बचाकर रखना चाहेंगे।

मानव, एक समलैंगिक सॉफ्टवेयर पेशेवर, याद करते हैं कि कुछ पसंदीदा अवस्थाओं को ढूंढ पाने पर उन्होंने कितना अच्छा महसूस किया था। उन्होंने कहा कि ये सब बहुत खूबसूरत लगता है जब आप किसी ऐसे इंसान के साथ रहते हैं, जिसपर आपको पूरा भरोसा है।हम जल्द ही एक पाँच अवस्थाओं वाली दिनचर्या में व्यवस्थित हो गए। हम एक अवस्था से शुरू करते और वो खत्म करके फिर दूसरी अवस्थाओं पे चलते चले जाते थे। ये अवस्थाएं हमारे अपने लिए तो काम कर ही रही थीं, पर शायद हमारी जोड़ी के लिए भी, एक यूनिट की तरह।

कुछ लोग लंबे समय तक चलने वाले रिश्तों में नई अवस्थाओं के बारे में चर्चा करने में काफी सहज महसूस करते हैं।  क्योंकि वहाँ अधिक विश्वास और अतिसंवेदनशीलता होती है, असफलता का डर कम होता है, और आप एक परिपूर्ण सेक्स की कामना नहीं कर रहे होते हैं। आप विफलता के जोखिम को उठाने के लिए तैयार रहते हैं।

रितु, एक 38 वर्षीय पत्रकार, कहती हैं कि बढ़ती उम्र के साथ अब उन्होंने अपना स्तर ऊंचा कर दिया है। वो अब नई अवस्थाएं केवल नजदीकी पार्टनर के साथ ही आजमातीं हैं।अगर मैं किसी लापरवाह से तत्कालीन रिश्ते में हूँ तो नई अवस्थाओं को लेकर मेरी प्रतिक्रिया काफी ठंडी रहती है। उनके साथ मैं मूल अवस्थाएं (जैसे मिशनरी, डॉगी स्टाइल) ही आजमाना चाहूँगी। लेकिन अगर मैं किसी युक्त रिश्ते में हूँ जहाँ मुझे अपने पार्टनर का ख़याल है तो मैं उसकी बताई हुई नई अवस्थाएं आजमाना चाहूँगी, भले ही मैं उसके लिए पूरी तरह से तैयार ना भी रहूँ, क्योंकि मुझे उसकी परवाह रहेगी।

 

भालू मम्मा वाली स्थिति (The mama bear position):


कुछ लोगों का विशेष अवस्थाएं चयन करने का कारण ये होता है कि वो गर्भ धारण करना चाहते हैं, और कई शहरी किंवदंतियों में ऐसी अवस्थाओं का वर्णन है जिससे गर्भ धारण में और यहां तक कि लड़के को जन्म देने में मदद मिलती है! निश्चित रूप से, एक बार जब गर्भावस्था हासिल हो जाती है, तो कुछ जोड़े नई अवस्थाओं को आजमाने के लिए मजबूर हो जाते हैं और इसी दौरान कोई पसंदीदा अवस्था भी ढूँढ लेते हैं। लेकिन कुछ गर्भवती महिलाएं (या महिलाएं जो कभी गर्भवती थीं) सहमत हैं कि गर्भावस्था के दौरान सेक्स में विभिन्न अवस्थाओं को आजमाए बिना भी थोड़ी अनिश्चितता रहती है।

प्रदर्शनिक सील स्थिति (The performing seal position):


कुछ लोगों को लगता है कि सेक्स की अवस्थाओं का ज्ञान होना मतलब सेक्स का ज्ञान होना। कई महिलाओं को संदेह है कि उनके पार्टनर सिर्फ दिखावे के लिए नईनई अवस्थाएं आजमाना शुरू करते हैं। मीना, एक 24 वर्षीय छात्र, जो महिलाओं के साथ डेट करतीं हैं, बतातीं हैं कि उनका पाला किताबी कीड़े सी (bookworm) महिलाओं से काफी पड़ता रहता है। उनके हिसाब से कुछ लोगों का ये मानने के पीछे ये कारण हो सकता है– “नए व्यक्ति के साथ उन्हें प्रभावित करने का दबाव अधिक रहता है, उन्हें ये दिखाने की कोशिश की जाती है कि उन्हें बहुत अवस्थाएं पता हैं। ऐसा प्रतीत कराया जाता है कि अरे ये सब तो मैंने पहले भी किया हुआ है और इसलिए अब भी कर रही हूँ। ज्यादा अवस्थाओं का ज्ञान पिछले अनुभवों का विवरण देता है, और अपने आप ही सेक्स ज्ञान का ब्यौरा भी देता है। जितनी ज्यादा आसानी से आप हर अवस्था में घुसते हैं, उतना ये पता चलता है कि आपने उसे पहले भी आजमाया है।

You may also like

Comments

comments

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *